Friday , July 28 2017
Home / Trending Now / धरती पर अमृत है पंचगव्य घी |
धरती पर अमृत है पंचगव्य |
धरती पर अमृत है पंचगव्य |

धरती पर अमृत है पंचगव्य घी |

पंचगव्य घी में ऐसे गुण है जो कई प्रकार के रोगों को दूर करने के लिए   शरीर के लिए जरूरी विटामिन मोहिया करवाता है | पंचगव्य घी देसी गाय के दूध , दहीं ,घी , मूत्र और गोबर के रस को मिलाकर बनाया जाता है | लेकिन इसमें पांचों चीजें बराबर भी मिलाई जा सकतीं है और कई अन्य विधियों में अलग अलग मात्रा में भी मिलाई जा सकती है | जैसे : दूध-240 मिली , मूत्र-60 मिली , दहीं-15 मिली ,घी-10 मिली , शहद-5 मिली , गोबर रस–3 मिली |

देसी गाय के गोबर के फायदे जानकर होंगे हैरान

पंचगव्य के सेवन से उदर रोग ,लकवा , वात , पित , कुष्ट , ज्वर , बवासीर , कमला , और आदि रोगों का खत्म होतें है | लेकिन पंचगव्य का सेवन करने से पहले त्रिफला , गोमूत्र , गर्म दूध में घृत डालकर पेट साफ़ कर लेना चाहिए |

आये जाने क्या है इसके फायदे :

  • पंचगव्य और मालकांगनी तेल माथे पर मालिश करने पर नींद आती हैं |
  • ब्रेन ट्यूमर वाले स्थान पर 1 या 2 चम्मच पंचगव्य देसी गाय के दूध में डालकर मालिश करें |
  • किसी भी प्रकार के बुखार में पंचगव्य से पुरे शरीर में मालिश करे और सूती कपड़े की गीली पट्टी सर पर रखने से बुखार उतर जायेगा |
  • जुकाम , सिरदर्द , माइग्रेन में पंचगव्य को गुनगुना कर चार-चार बूंदे नाक में डालने से आराम मिलेगा और ठीक हो जायेगा |
  • पंचगव्य को आँखों में डालने से नजर की कमजोरी दूर होती है |

आर्य विदेशी थे या भारतीय जाने पूरा सच

 

About Chadha

Check Also

बलात्कारी पादरी को चर्च ने दी माफी

बलात्कारी पादरी को चर्च ने दी माफी

इसाई धर्म की असलियत आज सामने आगई है की कैसे ये लोग धर्म परिवर्तन के …

चीनी माल पर प्रतिबंध को लेकर स्वदेशी जागरण मंच ने सौंपा प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन

चीनी माल पर प्रतिबंध को लेकर स्वदेशी जागरण मंच ने सौंपा प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन

अमेरिका की भांति ‘बाय इंडिया एक्ट’ बनाए केंद्र सरकार : आरपी सिंह सामरिक क्षेत्रों में …

नारद जयंती पत्रकारिता दिवस पर एक छत के नीचे जुटे कलम के सिपाही

नारद जयंती पत्रकारिता दिवस पर एक छत के नीचे जुटे कलम के सिपाही

नए भारत को विश्व में सम्मान दिलवाने में अपनी भूमिका निभाए मीडिया : डा. अजय …

हिन्दू योद्धा जिसने बाबर को दो बार हराया : ठाकुर मोहन सिंह मडाड

हिन्दू योद्धा जिसने बाबर को दो बार हराया : ठाकुर मोहन सिंह मडाड

ठाकुर मोहन सिंह मदाद एक महान योधा थे | उनका नाम इतिहास में एक वीर …

योगीराज में साडी और मेहँदी बना परीक्षा में न बैठाने का कारण |

योगीराज में साडी और मेहँदी बना परीक्षा में न बैठाने का कारण |

आज भले ही देश में बीजेपी की सरकार है लेकिन फिर भी हिन्दू विरोधी घटनाये …