Monday , December 11 2017
Home / Trending Now / पीरों और फकीरों की अन्सुल्जी सच्चाई
पीरों और फकीरों की अन्सुल्जी सच्चाई
पीरों और फकीरों की अन्सुल्जी सच्चाई

पीरों और फकीरों की अन्सुल्जी सच्चाई

गुरुग्राम :  पीरों और फकीरों की अन्सुल्जी सच्चाई – भारत में खास तोर पर पंजाब में आज एक चलन चल रहा है वो है नकली पीरों और दरगाहों को पूजना वो भी बिना कोई इतिहास जानें |यहीं नहीं इन मजारों में जाने वाला आजका नौजवान खास तौर पर पंजाब का नशे के हवाले किया जा चूका है और आगे भी और लोग इसके प्रभाव में आ रहें है |  आइये आज जानतें है उन मजारों के बारे में  और उनकी सच्चाई |

  1. बाले मियां पीर ( बहराइच ) : इसी ने मेहमूद गजनवी को हिन्दुओं के मन्दिर सोमनाथ पर हमला करने के लिए प्रेरित किया था | ये उसका भांजा था | बाले मियां अनके मुस्लिमों के साथ पंजाब से बहराइच पहुंचा जहाँ आज भी हजारों मुस्लिम सैनिकों की  मजारे है हिन्दू योधाओं के साथ युद्ध मारे  गये थे | लेकिन आज जो हिन्दुओं को काफ़िर समज कर मर रहे  थे उनको ही हमारे अंध हिन्दू भाई पूज रहें हैं | सलार मसूद यानि की बाले  मियां 10 जून को राजा सुहेल देव  के हाथों युद्ध में मारा गया था |

  1. खम्मनपीर बाबा ( लखनऊ ) : यह मजार लखनऊ के जंक्शन रेलवे स्टेशन में पटरियों के बीच स्थित है | आज इसी मजार  के  कारण सरकारी जमीन पर कब्ज़ा कर लिया गया है | इस पर लगे पत्थर के अनुसार ये गाजी  मिया के साथ आये थे और इस जगह युद्ध में मरे गये थे | लेकिन  हिन्दुओं का इन मजारों पर   माथा टेकना भारत के वीर हिन्दुओं का अपमान है |
  2. दिलकुशा : दिलकुशा में बनी हजरत शहीद कासिम बाबा की मजार भी हिन्दुओं द्वारा पूजी जाती है | ये भी अनेक मुस्लिम लुटेरों में से था जिसने अनेक हिन्दुओं को मारा और यहाँ मारा गया और इसके नाम के साथ शहीद शब्द जोड़ दिया गया | यहाँ के पास की जमीन सेना से लेकर इस मजार के लिए दे दी गई और ये काम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहें मुलायम सिंह यादव ने किया था |

Read this : जब श्री रामभक्त हनुमान जी ने तोड़ा था भीम का घमंड |

  1.  बखितयार की मजार : इस मुल्ले को सलार मसूद ने कानपूर में हमला करने के लिए भेजा था और ये मारा गया था | लेकिन हिन्दू इसको बड़ी श्रद्धा के साथ पुजतें हैं |
  2. गोपामयु का लाल पीर : यह  मीर सय्यद अज़िज़ुदीन की मजार है जिसे गोपम्यु पर हमला करने के लिए भेजा गया था |
  3. शेख ज्लालुधीन तबरीज : ये बंगाल में रहता था जिसने हिन्दुओं की जमीनों पर कब्ज़ा किया हुआ था | इसने देवतलला चला गया और वहां हिन्दुओं के मन्दिरों को तोड़ा और उनको जबरन मुस्लिम बनाया | यहाँ पर भी अंध हिन्दू अपना सर झुकतें है |

Read this : अगर नहीं करोगे चीनी समान का बहिष्कार तो भुगतने होंगे ये परिणाम |