Thursday , December 14 2017
Home / Trending Now / हिन्दू छात्र ने मुगलों के बारे में क्या लिखा , निकाला लखनऊ विश्वविद्यालय ने
हिन्दू छात्र ने मुगलों के बारे में क्या लिखा , निकाला लखनऊ विश्वविद्यालय ने
हिन्दू छात्र ने मुगलों के बारे में क्या लिखा , निकाला लखनऊ विश्वविद्यालय ने

हिन्दू छात्र ने मुगलों के बारे में क्या लिखा , निकाला लखनऊ विश्वविद्यालय ने

लखनऊ विश्वविद्यालय की परीक्षा में एक छात्र कुंवर रितेश सिंह ने एक सवाल का ऐसा अनोखा जबाव दिया है कि सोशल मीडिया में तहलका मच गया है।

इस हिन्दू योधा ने किया थाशहाबुद्दीन गौरी को परास्त : धीर पुण्डीर

परीक्षा में ‘मुगलों का भारतीय प्रशासन में योगदान’ के बारे में प्रश्न पूछा गया था तो प्रश्न के उत्तर में छात्र ने लिखा है ‘सर मै आपसे विनम्रता से क्षमा मांगता हूँ, मेरे इतिहास के ज्ञान के मुताबिक मुगल लुटेरे थे और लूट के हीमकसद से भारत आये थे।

लुटेरों का किसी देश की प्रगति में कोई योगदान नहीं होता। जिन लुटेरों ने हमारे देश के खजाने को लूटकर अपने देश भिजवा दिया वे हमारे देश का विकास कैसे कर सकते हैं।

वीर हकीकत राय – Veer Hakikat Rai

छात्र ने ये भी लिखा है कि मुगलों ने हमारे देश में ना सिर्फ कत्लेआम मचाया, हमारे देश की बहन बेटियों से बलात्कार भी किया। हमारे देश की हजारों लाखों महिलाओं ने विधवा होने पर मुगलों के डर से चिता में कूदकर अपनी जान दे दी। मेरे हिसाब से मुगलों का हमारे देश में यही योगदान है। छात्र ने ये भी लिखा है की अगर मुगल इतने ही कुशल प्रशाशक थे तो अपने देश का विकास क्यों नहीं कर लिया और हमारे देश को लूटने क्यों आ गए।

चीन को हिन्दुराष्ट्र बनाने वाले – पुष्यमित्र शुंग

अंत में छात्र कुंवर रितेश सिंह ने लिखा है कि ‘सर महाराणा प्रताप और हल्दीघाटी की कहानियां पढ़ते पढ़ते बड़ा हुआ हूं, अपने पूर्वजों के इतिहास को कलंकित नहीं कर सकता; अतः लुटेरे मुगलों का महिममंडल करने से अच्छा फेल होना पसंद करूंगा।