Thursday , December 14 2017
Home / धर्म / इस मंदिर को पाकिस्तान के गिराए 300 बम भी खत्म न कर पाए
इस मंदिर को पाकिस्तान के गिराए 300 बम भी खत्म न कर पाए

इस मंदिर को पाकिस्तान के गिराए 300 बम भी खत्म न कर पाए

बेशक दो राय नहीं कि भारतीय फौज की बहादुरी की वजह से हम पाकिस्तान को चार बार धुल चटा चुके है। मगर इस जीत में जितना हाथ भारतीय सैनिको का हैं उतना ही देवी-देवताओं के आशीर्वाद का भी है। राजस्थान के जैसलमेर स्थित तनोट माता (तनोट माता) का मंदिर इसका एक उदाहरण है।

tanot-mandir

मंदिर में एक संग्रहालय भी बनाया गया है। यहाँ पाकिस्तान की तरफ से फेंके गए जिन्दा बम भी रखे है। 1965 की जंग में पाकिस्तानी आर्मी ने जैसलमेर पर कब्ज़ा करने के इरादे से लगभग 300 बम इस मंदिर के आस पास गिराए थे। मगर माता की दया से ये बम कभी फट ही नहीं पाए।

तनोट माता के इस अद्भुत चमत्कार को देखते हुए मेजर जय सिंह ने 13 ग्रेनेड की एक कम्पनी और बी.एस.एफ. की दो कंपनियों को इसी मंदिर की सुरक्षा में रख कर पाकिस्तान से युद्ध किया था और उसे हार का स्वाद चखाया था।

ये भी माना जाता है कि 1965 की जंग में पाकिस्तानी फौज भारतीय सीमा के 4 किलोमीटर अंदर तक घुस आई थी पर इस मंदिर को पार नही कर पाई थी।

इस समय यह मंदिर बीएसएफ के नियंत्रण में है। इस मंदिर का रख-रखाव बीएसएफ ही करता है। इतना ही नहीं मंदिर में होने वाली पूजा-अर्चना, आरती आदि सभी चीजो की ज़िम्मेदारी भी बीएसएफ पास है के।

इससे पहले भारत पाकिस्तान से 1948, 1965, 1971 और 1999 में कारगिल में जंग लड़ चूका है। और हर बार भारत के हाथों हार का सामना किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *