Friday , July 28 2017
Home / भगवे शेर

भगवे शेर

वीर बालक जिसने शकों और हूणों को भारत से खदेड़ा |

वीर बालक जिसने शकों और हूणों को भारत से खदेड़ा |

शक और हुण एसी जातीया थी जिनके लोग बहुत ही क्रूर और निर्दयी थे | इन्होने चीन को ही नहीं बल्कि यूरोप को पूरी तरह से तबाह कर दिया था | रोम जैसा साम्राज्य भी इनके सामने नहीं टिक सका | सम्राट ने उन्हें कहा की हूण बहुत ही निर्दय …

आगे पढ़िए »

हिन्दू योद्धा जिसने बाबर को दो बार हराया : ठाकुर मोहन सिंह मडाड

हिन्दू योद्धा जिसने बाबर को दो बार हराया : ठाकुर मोहन सिंह मडाड

ठाकुर मोहन सिंह मदाद एक महान योधा थे | उनका नाम इतिहास में एक वीर योधा और बाबर की सेना को धुल चटाने के लिए भी जाना जाता है | 1530 में जब बाबर लाहौर जाने के लिए रवाना हुआ तो वह सरहिंद पहुंचा | वहां पहुंचने पर उसकी भेंट …

आगे पढ़िए »

इस मंदिर में अंग्रेजो की बली देता था कट्टर हिन्दू : बाबु बंधू सिंह

Tarhkulha Devi  Mandir, Gorakhpur – Babu Bandhu Singh तरकुलहा देवी मन्दिर गोरखपुर से लगभग 20 किमी की दुरी पर है | ये मन्दिर सनातन धर्म के प्रमुख स्थानों में से एक है | इस मन्दिर का इतिहास : ये बात 1857 के स्वतंत्रता संग्राम से पहले की है जब अंग्रेजो …

आगे पढ़िए »

इस आदिवासी हिन्दू ने किया था तीरों से अंग्रेजों का सामना |

इस आदिवासी हिन्दू ने किया था तीरों से अंग्रेजों का सामना |

अंग्रेजों के खिलाफ आज़ादी की लड़ाई में सिर्फ शहर या गावों के लोगों ने ही हिस्सा नहीं लिया बल्कि आदिवासियों ने भी इस लड़ाई में से हिस्सा लिया और अंग्रेजों को मुहं तौड जवाब दिया | बिरसा मुंडा आदिवासीयों के लिए प्रेरणा स्त्रोत्र से कम नहीं हैं | उन्होंने मुंडा …

आगे पढ़िए »

अफ़ग़ानों को पंजाब कि धरती से धुल चटाने वाला हिन्दू योधा – महान सिंह बाली

महान सिंह बाली , एक महान पंजाबी ब्राह्मण योद्धा |

 महान सिंह बाली रणजीत सिंह की सेना के दूसरा प्रमुख सेनापति थे। हरी सिंह नलुआ के बाद उन्हें आधुनिक पंजाब का सबसे सफल जरनैल माना जाता है। इनके पिता का नाम दाता राम था जो की गुजरात के सुलतान की कचहरी में काम करते थे। महान सिंह बाली ने अपने …

आगे पढ़िए »

योगी आदित्यनाथ का ऐसा रूप देख हर हिन्दू गदगद हो उठेगा

योगी आदित्यनाथ का ऐसा रूप देख हर हिन्दू गदगद हो उठेगा

उत्तर प्रदेश में कमल खिला तो सबकी निगाहें इस बात पर टिकी थीं कि मुख्यमंत्री कौन बनेगा । अततः 18 मार्च की शाम गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुना गया और 19 मार्च दिन रविवार को लखनऊ के स्मृति उपवन में शपथ समारोह हुआ । वैसे …

आगे पढ़िए »

हिन्दू योधा जो मातृभूमि के लिए शादी के मंडप से उठते ही लड़ने चला गया : भैरूंसिंह भुवांणा

हिन्दू योधा

हिन्दू योधा जो मात्रभूमि के लिए शादी के मंडप से उठते ही लड़ने चला गया : भैरूंसिंह भुवांणा राजस्थान में रेवाड़ी के पास माण्डण नामक स्थान पर मुग़ल  सेनाधिकारी राव मित्रसेन अहीर कई मुस्लिम सेनापतियों के साथ सेना लेकर  शेखावाटी प्रदेश की स्वतंत्रता को कुचलने के लिए तैयार खड़ा था | …

आगे पढ़िए »

Veer Savarkar – वीर सावरकर

Veer Savarkar

Veer Savarkar सावरकर भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन के महान सेनानी और राष्ट्रवादी नेता थे। उन्हें वीर सावरकर के नाम से भी सम्बोधित किया जाता है। हिन्दू राष्ट्र की विचारधारा को विकसित करने का बहुत बड़ा श्रेय सावरकर को जाता है। वे न केवल स्वाधीनता-संग्राम के एक तेजस्वी नेता थे अपितु महान …

आगे पढ़िए »

चीन को हिन्दुराष्ट्र बनाने वाले – पुष्यमित्र शुंग

पुष्यमित्र शुंग

पुष्यमित्र शुंग – बात आज से 2100 साल पहले की है। एक किसान ब्राह्मण के घर एक पुत्र ने जन्म लिया। नाम रखा गया पुष्यमित्र। पूरा नाम पुष्यमित्र शुंग। और वो बना एक महान हिन्दू सम्राट जिसने भारत को बुद्ध देश बनने से बचाया। अगर ऐसा कोई राजा कम्बोडिया, मलेशिया या …

आगे पढ़िए »

वीर हकीकत राय – Veer Hakikat Rai

Veer Hakikat Rai

वीर हकीकत राय – Veer Hakikat Rai – बसंत पंचमी पर याद की जाती है शहादत पंजाब के सियालकोट मे जन्में वीर हकीकत राय जन्म से ही कुशाग्र बुद्धि के बालक थे। यह बालक 4-5 वर्ष की आयु मे ही इतिहास तथा संस्कृत आदि विषय का पर्याप्त अध्ययन कर लिया था। …

आगे पढ़िए »

कित्तूर रानी चेन्नम्मा | Kittur Rani Chennamma History In Hindi

कित्तूर रानी चेन्नम्मा – Kittur Rani Chennamma भारत के कर्नाटक राज्य के कित्तूर की रानी थी। 1824 में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ अपनी सेना बनाकर लढने वाली वह पहली रानी थी| लेकिन बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था और तभी से वह भारतीय स्वतंत्रता अभियान की …

आगे पढ़िए »

मेवाड़ की रानी पद्मिनी : एक शौर्य गाथा

History of Rani Padmini

वीर वीरांगनाओं की धरती राजपूताना…जहाँ के इतिहास में आन बान शान या कहें कि सत्य पर बलिदान होने वालों की अनेक गाथाएं अंकित है। एक कवि ने राजस्थान के वीरों के लिए कहा है : History of Rani Padmini “पूत जण्या जामण इस्या मरण जठे असकेल सूँघा सिर, मूंघा करया …

आगे पढ़िए »

इनके ऊंठ के पीछे लटकता था अंग्रेजो का झंडा : भूरसिंह शेखावत

Bhursingh Shekhawat

सीकर जिले के पटोदा गांव के भूरसिंह शेखावत अति साहसी व तेज मिजाज रोबीले व्यक्तित्व के धनी व्यक्ति थे उनके रोबीले व्यक्तित्व को देखकर अंग्रेजों ने भारतीय सेना की आउट आर्म्स राइफल्स में उन्हें सीधे सूबेदार के पद पर भर्ती कर लिया था| भागी भूरसिंह शेखावत भूरसिंह शेखावत जो शेखावाटी में …

आगे पढ़िए »