Monday , January 21 2019
Home / हिन्दू योद्धा (page 2)

हिन्दू योद्धा

हिन्दू योद्धा

हिन्दू योद्धा : वो हिन्दू योद्धा जिन्होंने अपनी जान , सेना और परिवार को सनातन धर्म , देश , प्रजा के लिए बलिदान कर दिए | वो महान हिन्दू योधा जो इतिहास में कहीं भूल दिए गये या उनके असत्त्व को मिटा दिया गया , जिन्होंने देश कि रक्षा के लिए अपना तन मन और धन लगा दिया पर कुछ कुत्नितिओं के चलते उनका इतिहास बस इतिहास बन कर रह गया लोगो तक सामने ही नहीं आया .

इस वेबसाइट के माध्यम से हम सभी योद्धाओं को आपके समक्ष रखेंगे चाहे वो किसी भी प्रान्त के हो किसी भी जाती से हों |

भारत में कई इसे योधा हुए हैं जिनकी  शूरवीरता  का तांता उनके विरोधी भी मानते आहे हैं , इसे शूरवीर जिन्होंने अपने विरोधिओं के मनो में डर और सामान पाया |

चीन को हिन्दुराष्ट्र बनाने वाले – पुष्यमित्र शुंग

पुष्यमित्र शुंग

पुष्यमित्र शुंग – बात आज से 2100 साल पहले की है। एक किसान ब्राह्मण के घर एक पुत्र ने जन्म लिया। नाम रखा गया पुष्यमित्र। पूरा नाम पुष्यमित्र शुंग। और वो बना एक महान हिन्दू सम्राट जिसने भारत को बुद्ध देश बनने से बचाया। अगर ऐसा कोई राजा कम्बोडिया, मलेशिया या …

आगे पढ़िए »

वीर हकीकत राय – Veer Hakikat Rai

Veer Hakikat Rai

वीर हकीकत राय – Veer Hakikat Rai – बसंत पंचमी पर याद की जाती है शहादत पंजाब के सियालकोट मे जन्में वीर हकीकत राय जन्म से ही कुशाग्र बुद्धि के बालक थे। यह बालक 4-5 वर्ष की आयु मे ही इतिहास तथा संस्कृत आदि विषय का पर्याप्त अध्ययन कर लिया था।10 …

आगे पढ़िए »

कित्तूर रानी चेन्नम्मा | Kittur Rani Chennamma History In Hindi

कित्तूर रानी चेन्नम्मा – Kittur Rani Chennamma भारत के कर्नाटक राज्य के कित्तूर की रानी थी। 1824 में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ अपनी सेना बनाकर लढने वाली वह पहली रानी थी| लेकिन बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था और तभी से वह भारतीय स्वतंत्रता अभियान की …

आगे पढ़िए »

मेवाड़ की रानी पद्मावती : Rani Padmavati

History of Rani Padmini

वीर वीरांगनाओं की धरती राजपूताना…जहाँ के इतिहास में आन बान शान या कहें कि सत्य पर बलिदान होने वालों की अनेक गाथाएं अंकित है। एक कवि ने राजस्थान के वीरों के लिए कहा है : मेवाड़ की रानी पद्मावती : Rani Padmavati “पूत जण्या जामण इस्या मरण जठे असकेल सूँघा …

आगे पढ़िए »

इनके ऊंठ के पीछे लटकता था अंग्रेजो का झंडा : भूरसिंह शेखावत

Bhursingh Shekhawat

सीकर जिले के पटोदा गांव के भूरसिंह शेखावत अति साहसी व तेज मिजाज रोबीले व्यक्तित्व के धनी व्यक्ति थे उनके रोबीले व्यक्तित्व को देखकर अंग्रेजों ने भारतीय सेना की आउट आर्म्स राइफल्स में उन्हें सीधे सूबेदार के पद पर भर्ती कर लिया था| भागी भूरसिंह शेखावत भूरसिंह शेखावत जो शेखावाटी में …

आगे पढ़िए »

इस हिन्दू राजा ने बचाई थी 640 पोलैंड बचों की जान

इस हिन्दू राजा ने बचाई थी 640 पोलैंड बचों की जान

जब हिटलर ने पोलैंड पर आक्रमण करके द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत की थी तो उस समय पोलैंड के सैनिको ने अपने 500 महिलाओ और करीब 200 बच्चों को एक शीप में बैठाकर समुद्र में छोड़ दिया और कैप्टन से कहा की इन्हें किसी भी देश में ले जाओ,जहाँ इन्हें …

आगे पढ़िए »

क्या आप जानते हैं बाजी राव पेशवा और रानी लक्ष्मी बाई भाई बहन थे ?

रानी लक्ष्मी बाई विवाह के उपरांत झांसी की रियासत की रानी बनी। मात्र 21 साल की आयु में पति को खो देने के बाद उन्होंने राज्य का भार अपने कन्धों पर ले लिया। कैसे भूल सकता है युद्ध मैदान में चण्डी बनी “मनु” को इतिहास जो पीठ पर पुत्र को …

आगे पढ़िए »

रानी लक्ष्मीबाई – Rani Laxmi Bai

पूरा नाम     –  राणी लक्ष्मीबाई गंगाधरराव. जन्म          – 19 नवम्बर, 1835. जन्मस्थान – वाराणसी. पिता          – श्री. मोरोपन्त. माता          – भागीरथी शिक्षा         – मल्लविद्या, घुसडवारी और शत्रविद्याए सीखी. विवाह        – …

आगे पढ़िए »

पंडित चन्द्रशेखर आजाद

पंडित चन्द्रशेखर आजाद

पंडित चन्द्रशेखर आजाद : “मेरी भारत माता की इस दुर्दशा को देखकर यदि अभी तक आपका रक्त क्रोध नहीं करता है, तो यह आपकी रगों में बहता खून है ही नहीं या फिर बस पानी है” पूरा नाम  –  पंडित चंद्रशेखर तिवारी जन्म  –    23 जुलाई, 1906 जन्मस्थान  – …

आगे पढ़िए »

मंगल पांडे (क्रांतिकारी)

मंगल पांडे (क्रांतिकारी) जन्म: 30 जनवरी 1831, नगवा गांव, बलिया जिला निधन: 8 अप्रैल 1857, बैरकपुर, पश्चिम बंगाल कार्य: सन् 1857 के प्रथम भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के अग्रदूत मंगल पांडे भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के अग्रदूत थे। उनके द्वारा भड़काई गई क्रांति की ज्वाला से अंग्रेज़ शासन बुरी तरह …

आगे पढ़िए »