Friday , July 28 2017
Home / Trending Now / रुद्राक्ष और भगवा वस्त्र पहन कर हत्या करता था अली शेर
रुद्राक्ष और भगवा वस्त्र पहन कर हत्या करता था अली शेर
रुद्राक्ष और भगवा वस्त्र पहन कर हत्या करता था अली शेर

रुद्राक्ष और भगवा वस्त्र पहन कर हत्या करता था अली शेर

गले में रुद्राक्ष और भगवा वस्त्र पहन कर हत्या करता था अली शेर ..बेनकाब हुई भगवा को बदनाम करने की साजिश

पुलिस ने एक ऐसे अपराधी हत्यारे को गिरफ्तार किया है जो आतंक फैलाने के लिए साजिश भगवा वस्त्र पहन कर साधु वेश में निकलता था और किसी का कत्ल कर के फिर छुप जाता था .. हत्यारे अपराधी और ये गंदी साजिश रचने वाले का नाम है अली शेर . मुस्लिम होते हुए इस अपराधी ने भगवा को बदनाम करने की साजिश रची और वेश बदल कर हिन्दू साधु का रूप धारण कर के अपराध के साथ कत्ल भी करने लगा . कत्ल करने के बाद घटना स्थल पर चर्चा होती थी की किसी भगवाधारी साधू जिसने रुद्राक्ष पहन रखी थी , ने ये अपराध किया है .

इस अली शेर ने प्रतापगढ़ की लालगंज तहसील में प्रैक्टिस करने वाले जलेशरगंज के प्रसिद्ध वकील श्री धनंजय मिश्रा का कत्ल किया था …श्री मिश्रा संभ्रांत वकील के साथ बार एसोसिएशन लालगंज के पूर्व अध्यक्ष भी थे। 24 अप्रैल की शाम 6 बजे धनंजय रामपुर बावली स्थित रामानंद सरस्वती डिग्री कॉलेज अपनी बेटी अंशिका का इम्तिहान दिलाने गए थे गये थे। जब वो परीक्षा दिलाकर घर लौट रहे थे तब मोठिन गांव स्थित धर्मकांटा के पास इसी अली शेर ने भगवा वस्त्र में चलती बाइक पर वकील श्री मिश्रा को गोली मार दी जिस से वकील साहब गिर पड़े ..गिरने के बाद अली शेर ने उनको और गोलियां मारी , बेटी अंशिका हर तरह से हाथ जोड़ कर अपने पापा की जान बख्स देने की मिन्नत करती रही पर अली शेर नहीं माना और अंत में श्री मिश्रा ने दम तोड़ दिया …

Read This : सलीम-जावेद’ की फिल्मों का इस्लामीकरण

प्रतापगढ़ में लालगंज तहसील के पूर्व बार एसोसिएशन अध्यक्ष एडवोकेट धनंजय मिश्रा की हत्या करने के अपराध में STF ने इस भगवा वेश के अंदर छिपे अली शेर उर्फ सोनू नाम के इस अपराधी को पकड़ा है । इस अपराधी हत्यारे अली शेर पर अदालत में 15 से ज्यादा मुकदमे लंबित हैं जिसमे से एक हत्या के केस में इसे आजीवन कारावास हो चुका है पर ये अपराधी 23 अगस्त 2016 को प्रतापगढ़ में पेशी के दौरान यह पुलिस को धोखा दे कर भाग गया था जो एक बार फिर STF के शिकंजे में आ गया है .

पुलिस ने भगवा और रुद्राक्ष पहन कर हत्या करने वाले इस अपराधी पर 15 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था . ये अपराधी रामपुर बावली लालगंज का मूल निवासी है . पुलिस एक साथ जनता को धोखा देने और हिन्दुओं को बदनाम करने के कुत्सित उद्देश्य से यह अली शेर बदन पर भगवा और गले में रूद्राक्ष धारण करता था। इस प्रकार से वो हिन्दू साधु संतो को बदनाम करने के साथ हिन्दू संगठनों की भी बदनामी करवाने में सफल रहता था ..

Read This : मै पीड़ित हिन्दू संत मोदी जी मुझे न्याय चाहिए : रामकृष्ण पुरोहि

अब इस अपराधी की पोल सामने आने के बाद ऐसे नेटवर्क का भंडाफोड़ हो सकता है जो भगवा पहन कर आतंक मचाता हुआ हिन्दू संगठनों को बदनाम कर रहा था . निश्चित रूप से इसमें कुछ बड़े और नामी लोगों का भी हाथ हो सकता है जिनका भंडाफोड़ होना बाकी है . पर सोनू उर्फ़ अली शेर की गिरफ्तारी ने भगवा के खिलाफ साजिश रचने वालों को पूरी तरह से बेनकाब कर दिया है .

About Bhardwaj